उत्तम जीवन के लिए सुविचार

https://www.onlinegurugyan.com/2020/02/Suvichar.html?m=1

1:- खुद को इतना सरल भी मत बनाओ, कि हर कोई आप का इस्तेमाल कर ले, क्योंकि जिन तारों में करंट नहीं होता उन पर कपड़े सुखा दिए जाते हैं।
2 :- बस सिर्फ हंसते रहो, दुनिया वाले सोचते ही रहेंगे कि इसको ऐसा कौन सा सुख मिल गया है?
3 :- संतुष्ट दुनिया का सबसे बड़ा धन है।
4 :- दौलत तो विरासत में भी मिल सकती है, लेकिन पहचान आपको अपने दम पर ही बनानी पड़ती है।
5 :- मीठा शहद बनाने वाली मधुमक्खी भी डंक मार सकती है, इसलिए होशियार रहें, बहुत मीठा बोलने वाले भी सिर्फ हनी ही नहीं बल्कि हानि भी दे सकते हैं।
6 :- लोग आईना कभी नहीं देखते, अगर आईने में चित्र की जगह चरित्र दिखाई देता।
7 :- समाज का नुकसान बुरे लोगों से नहीं, बल्कि अच्छे लोगों के चुप रहने से होता है।
8अहंकार में तीन गए धन वैभव और वंश यकीन ना आए तो देख लो रावण कौरव और कंस।
9 :- उम्र थका नहीं सकती, ठोकरे गिरा नहीं सकती, अगर  जिद है जीतने की, तो परिस्थितियां भी हरा नहीं सकती।
10 :- मैं शुक्रगुजार हूं उन लोगों का, जिन्होंने मेरा साथ मेरे बुरे वक्त में छोड़ दिया, क्योंकि उन्हें भरोसा था कि मैं मुसीबतों से अकेला ही निपट लूंगा।
11 बोलने से पहले शब्द मनुष्य के वश में होते हैं, लेकिन बोलने के बाद मनुष्य शब्दों के वश में हो जाता है।
12 :- अगर जिंदगी में कुछ पाना है तो, तरीके बदलो इरादे नहीं।
13 :- अपनी तुलना कभी भी दूसरों से मत करो, क्योंकि हर फल का स्वाद अलग अलग होता है।
14 :- एक बार फैसला ले लिया तो उस पर बार-बार चर्चा मत करो, क्योंकि बार-बार चर्चा करने से आत्मविश्वास खत्म होता है।
15 :- नसीब लिखना आपके हाथ में नहीं है, लेकिन नसीब बदलना सिर्फ आपके हाथ में है, क्योंकि जिंदगी आपकी है और इस पर हक भी सिर्फ आपका ही है।